HomeNewsDelhi Meerut Expressway Accident: 15 बार हो चुका है इस बस का...

Delhi Meerut Expressway Accident: 15 बार हो चुका है इस बस का चालान, अब भीषण हादसे में गई छह लोगों की जान Live Video

हमें फॉलो करें

Delhi Meerut Expressway Accident: दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर जिस बस के चलते दुर्घटना हुई और छह लोगों की जान गई उस बस का पंजीकरण परिवहन विभाग नोएडा में एक मई 2015 को हुआ है। बस की उम्र आठ वर्ष दो महीने की है। 30 अप्रैल 2025 तक बस की फिटनेस मान्य है। प्रदूषण सर्टिफिकेट 12 मई 2024 तक मान्य है जबकि 31 मई 2024 तक बस का बीमा भी है।

Delhi Meerut Expressway Accident

Delhi Meerut Expressway Accident

उल्टी दिशा में चल रही बस छह लोगों के मौत का कारण बन गई। इस बस को लेकर एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। यह बस जिसने दिल्ली-मेरठ एक्स्प्रेस-वे (Delhi meerut Expressway Accident) पर छह लोगों की जान ले ली, उस यूपी 16 सीटी 7835 बस का बिना लाइसेंस वाहन चलाने, सड़क पर तेज रफ्तार से बस दौड़ाने, बिना सीट बेल्ट के चलाने व पार्किंग नियमों का उल्लंघन करने के मामले में यातायात पुलिस द्वारा 15 बार चालान किया गया है।

चार जुलाई को हुआ था आखिरी चालान

चार जुलाई को सेक्टर- 68 में भी बिना सीट बेल्ट के फर्राटा भर रही बस के खिलाफ यातायात पुलिस द्वारा कार्रवाई की गई थी(Delhi Meerut Expressway Accident)।

- Advertisement -

बस के कागजात पूरी तरह से नियमों पर खरे उतरते हैं, लेकिन बस चालक के प्रशिक्षित होने पर सवाल खड़ा हो रहा है क्योंकि नोएडा, गाजियाबाद की सड़क पर लगातार एनसीआर परमिट की इस बस द्वारा नियमों का उल्लंघन किया गया।

परिवहन विभाग ने भी बरती लापरवाही

Delhi Meerut Expressway Accident

जबकि जिले में स्थित परिवहन विभाग में भी ड्राइविंग लाइसेंस देने के लिए काम चलाऊ व अस्थाई व्यवस्था से ड्राइविंग टेस्ट लिया जा रहा। चौधरी टूर एंड ट्रेवल्स की यह बस पहले विश्व भारती स्कूल से पहले संबद्ध थी, लेकिन वर्तमान में एक निजी कंपनी के लिए काम कर रही है।

स्कूल नहीं एक कंपनी के लिए चल रही एक साल से बस

नोएडा स्थित ओरिएंट फैशन में बस पिछले एक वर्ष से लगी हुई है। विश्व भारती स्कूल से बस पिछले वर्ष अटैच थी। बस का भजनपुरा का रूट है। गाजीपुर से सीएनजी भरवाने के बाद बस ड्राइवर दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर चढ़ गया था। ट्रांसपोर्टर पीएस चौधरी ने बताया कि कैंब्रिज स्कूल, विश्व भारती सहित डीपीएस नॉलेज पार्क में उनकी बस चलती हैं। जो वहीं पर खड़ी हो जाती हैं। गाजियाबाद पुलिस अधिकारियों ने भी वर्तमान में बस का ओरिएंट फैशन कंपनी से जुड़े होने की पुष्टी की है(Delhi Meerut Expressway Accident)।

आठ साल में दर्जनभर बार हो चुका है चालान, सभी कागजात दुरुस्त

Delhi Meerut Expressway Accident

बस का पंजीकरण परिवहन विभाग नोएडा में एक मई 2015 को हुआ है। बस की उम्र आठ वर्ष दो महीने की है। 30 अप्रैल 2025 तक बस की फिटनेस मान्य है। प्रदूषण सर्टिफिकेट 12 मई 2024 तक मान्य है, जबकि 31 मई 2024 तक बस का बीमा भी है।

बस का बिना हेलमेट होने का किया चालान

गाजियाबाद में 27 जून 2023 को बिना हेलमेट के बस दौड़ाने पर चालान किया गया है। ऐसे में सड़क पर वाहनों के खिलाफ होने वाली कार्रवाई में बरती जा रही लापरवाही से जोड़ कर इसे देखा जा रहा है। जबकि सेक्टर- 68 में बिना सीटबेल्ट के वाहन दौड़ाने से स्पष्ट है कि लगातार नियमों का उल्लंघन किया जाता है। वर्ष 2023 में बस के खिलाफ नियमों का उल्लंघन करने पर चालान की कार्रवाई हुई है(Delhi Meerut Expressway Accident)।

Also Read: Bigg Boss OTT 2: Pooja Bhatt says she’s single and misses dad Mahesh

Also Read: Bigg Boss OTT 2: Manisha Rani slanders Avinash, says- ‘The name is Sachdev, but he tells the most lies’

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

69th National Film Awards 2023 full list actor and actress Neha Malik लाल रंग की बिकनी में इंटरनेट पर छा गई ये एक्ट्रेस Apple Store launch in Mumbai: Tim Cook eats Vada pav with Madhuri Dixit, celebs pose with the CEO Nandini Gupta wins Femina Miss India 2023 Palak Tiwari ने खुलासा किया कि सलमान खान अपने सेट पर महिलाओं को ‘कम नेकलाइन’ पहनने की अनुमति नहीं देते हैं